Village Ghost Stories In Hindi || Bhutiya Jungle || भूतिया जंगल

Village-BHUTIYA-JUNGLE-HORROR-STORY-2022


भूतिया जंगल ( Bhutiya Jungle)

हेलो Guys मेरा नाम अभिषेक है। मेरे गांव का नाम फत्तेहपुर है। यह उत्तर प्रदेश में एक छोटा सा गांव है। हमारे गांव से थोड़ी ही दूर पर ठठिया नाम का गांव है। इन दोनों गांव के बीच मे ही एक जंगल पड़ता है। (Bhutiya jungle village ghost story 2022) Village ghost stories in hindi 2022

जिसकी कहानी आज हम आप को सुनने जा रहे हैं। हमारे गांव का भूतिया जंगल कहानी (village ghost story in hindi 2022) में हमारे गांव के इस जंगल में घटी घटनाओं से आज में आप लोगों को अवगत कराने जा रहा हूँ। यह जंगल विमल नाम के व्यक्ति का है। वह ठठिया गांव का मुखिया है। 

जंगल बहुत ही घना था इसलिए मुश्किल से ही कोई इसके अंदर जाता था। इस जंगल से होकर एक सड़क थी जो इन दोनों गांव को जोड़ती है। वैसे तो हम बचपन से ही उस जंगल में घटित कहानियां सुनते हुए आय हैं।

जैसे कि एक बार की बात है, एक आदमी देर रात को उस जंगल वाले रास्ते से गुजर रहा था तो किसी भैंसे ने उसे मार दिया था। ऐसी ही बहुत सी कहानियां हैं उस जंगल  की। इसलिए लोगों का मानना है कि अब तक जितने भी लोग उस जंगल वाले रास्ते पर मरे हैं उन सब की आत्मा उस जंगल मे भटकती रहती है।
(Village ghost story)
 उस जंगल के बीचों बीच एक विशाल पीपल का वृक्ष था। जिसके आसपास हमेसा काले सांप घूमते रहते थे। वह जंगल इतना घाना था कि दिन के समय भी अंधेरा रहता था!

एक बार की बात है हमारे गांव से दो राहगीर गुजर रहे थे। वह आस-पास कहीं ठहरने के लिए जगह ढूंढ रहे थे। हमारे गांव के लोगों ने उन्हें बताया कि यहां पास में एक होटल है। और शाम हो गई है। इसलिए उस जंगल से ना जाएं क्योंकि वहां भूतिया घटना घटती रहती हैं।

उन राहगीरों ने गांव वालों की बात को अनसुना कर दिया और उस जंगल के रास्ते होटल जाने के लिए निकल पड़े। सुबह जब मेरे चाचा राशन लेने के लिए ठठिया गांव जा रहे थे। तो वही बीच रास्ते में उन्हें शव दिखाई दिए। मेरे चाचा घबरा गए और आसपास के लोगों को उन्होंने बुला लिया।

 गांव वालों ने उनके कपड़े देखकर पहचान लिया किया दोनों वही राहगीर हैं। वे आपस में बातें करते हुए कहने लगे हमने तो पहले ही समझाया था कि वहां से मत जाओ वह जंगल भूतिया है।

 उन्होंने हमारी बात नहीं मानी और भूतों ने उन्हें मार दिया। फिर वहां पुलिस को बुलाया गया पुलिस को छानबीन में कुछ नहीं मिला इसलिए उन्होंने इस केस को बंद कर दिया। फिर कुछ सालों बाद हमारे गांव में कुछ लोग शूटिंग करने के लिए आते हैं।

 सभी गांव वाले उन्हें रहने के लिए जगह देते हैं। गांव वाले उन्हें उस जंगल से दूर रहने के लिए भी सचेत करते हैं। अगले दिन उन्हें कुछ अपने लिए सामान खरीदना होता है। इसलिए सभी पास के गांव में जाते हैं।

 वहां वह उस जंगल के मालिक से मिलते हैं। वह बहुत अमीर आदमी होता है। वह उन कलाकारों को सम्मान पूर्वक हमारे गांव मैं वापस छोड़ जाता है।

 उनसे यह भी कहता है कि इस जंगल से दूर ही रहना क्योंकि कुछ साल पहले दो राहगीर को जंगल के आसपास से गुजर रहे थे। तो अगले दिन उनकी लाशें मिली थी यह सब उनको अजीब लगता है।

 यह जानने की कोशिश करते हैं कि क्या सच में उस जंगल में कोई भूत है। वह गांव वालों को बिना बताए चुपके से अपने कैमरे के साथ जंगल में घुस जाते हैं। वहां उन्हें अंधेरे की वजह से कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा होता है।

 वह जंगल के अंदर चले जाते हैं क्योंकि वहां से उन्हें कुछ रोशनी आती दिखाई दे रही होती हैं। वे उस रोशनी का पीछा करते हैं। जंगल के बीच बने एक गोदाम के पास पहुंच जाते हैं। उन्हें आस पास बहुत सारे लोग दिखाई दे रहे होते हैं।

 पेड़ों पर कटे हुए सर लटके होते हैं यह देखते ही उन्हें घबराहट होने लगती है। वे चुपके से उस गोदाम के पास जाते हैं। वहां जाकर तो आश्चर्यचकित रह जाते हैं। क्योंकि उस गोदाम में गैर कानूनी हथियारों की खरीदारी का व्यापार चल रहा होता है।

 वह सब अपने कैमरे में शूट करने लगते हैं। कि तभी वहां उस जंगल का मालिक आ जाता है। उसे वहां देखकर तो दंग रह जाते हैं उन्हें तो विश्वास ही नहीं होता कि इन सब के पीछे वह है।

 वह सब इसे बंद करने के लिए एक योजना बनाते हैं। कि हम में से कोई एक गांव वालों को यहां लाएगा और एक पुलिस को यहां लेकर आएगा वह व कैमरा पुलिस तक ले जाने के लिए जा ही रहे होते हैं। कि कभी किसी चीज से टकरा जाते हैं। और वही गिर पड़ते हैं। गिरने की आवाज सुनते ही जंगल का मालिक सचेत हो जाता है।

 वह अपने लोगों को देखने के लिए कहता है कि क्या हुआ वह सब पकड़े जाते हैं। गुंडे उन्हें पकड़ कर जंगल के मालिक के सामने ले जाते हैं। उन्हें देखकर कहता है कि मैंने तुम्हें पहले ही इस जंगल से दूर रहने के लिए कहा था। पर तुमने मेरी बात नहीं मानी इसलिए तुम्हें भी बाकी सब की तरह मरना होगा।

 वह उन्हें सब बताता है कि कैसे उसने गांव वालों को इस जंगल से दूर रखने के लिए लोगों में भूत का डर पैदा किया। वह यह भी कहता है कि कुछ साल पहले जो दो राहगीरों की लाश मिली थी उन्हें हम ने ही मारा था उनकी तरह ही तुम्हें भी मरना होगा वह सब उस से माफी मांगने लगते हैं और कहते हैं कि हमें छोड़ दो हम किसी को कुछ नहीं बताएंगे पर वह किसी की नहीं सुनता और उनको मारने का हुक्म अपने आदमियों को दे देता है।

 वह उन्हें मारने के लिए ले ही जा रहे होते हैं कि तभी उन्हें वहां गांव वालों के आने का शोर सुनाई देने लगता है वह वहां से भागने लगता है। और अपने आदमियों से कहता है कि यहां सब कुछ छिपा दो पर तभी वहां पुलिस भी आ जाती है। क्योंकि उनमें से एक वहां से भागने में सफल हो जाता है।

 जंगल के मालिक और पुलिस वालों के बीच गोलीबारी होने लगती है। जिससे तीन पुलिसवाले मारे जाते हैं पर अंत में पुलिस जंगल के मालिक को गिरफ्तार कर लेती है।

 पुलिस वाले और सभी गांव वाले उन लोगों को धन्यवाद कहते हैं। वह गांव वालों से एक बात कहते हैं कि आज के युग में भूत नाम की कोई चीज ही नहीं होती यह तो लोगों द्वारा चला गया अंधविश्वास है।

 इस तरह हमारे गांव के लोग भूतिया जंगल (scary Ghost jungle) के प्रकोप से बच जाते हैं अब तो देर रात भी लोग वहां से आ जा सकते हैं। इस घटना के कुछ साल बाद उस जंगल को काटकर खेत में तब्दील कर दिया जाता है।
  
तो दोस्तो यह थी हमारे गांव की भूतिया जंगल की कहानी। (Village horror story bhutiya jungle in hindi) दोस्तों यह कहानी आपको कैसी लगी हमे कॉमेंट करके जरूर बताए!!

दोस्तो क्या आपके गांव की भी कोई भूतिया कहानी है? अगर हां तो आप हमे send कर सकते हैं। हम उस कहानी को वेबसाइट पर publish कर सकते हैं।

अपने सुझाव और कहानी आप हमे हमारे ईमेल 
📨 7065Abhishek@gmail.com पर भेज सकते हैं।

THANKS FOR READING 
PLEASE LIKE AND SHARE

यह भी पढ़े...

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ